Mohali Rap News

छह साल की बच्ची को घर से उठाया और किया रेप, गले और होंठ पर गहरे जख्म

अपने मां-बाप और बहनों के बीच सो रही 6 साल की बच्ची को एक दरिंदे ने रात के अंधेरे में उठा लिया। उसे किडनैप कर दरिंदे की तरह रेप किया। बच्ची की हालत बहुत खराब है और उसके गले पर गहरे घाव हैं। इससे आशंका जताई जा रही है कि रेप के बाद हत्या की भी कोशिश की गई। उसके होंठों पर गहरे जख्म हैं। यह शर्मनाक घटना जीरकपुर के पभात में मोहाली रोड पर मन्नत एनक्लेव से आगे एकेएम ईंट-भट्‌ठे के पास हुई। यहां ईंट बनाने वाले मजूदरों के लिए कच्चे शेड बनाए गए हैं। इन्हीं में से एक शैड में एक मजदूर की बेटी के साथ यह वारदात हुई। अब बच्ची डेराबस्सी के सरकारी हॉस्पिटल में डाॅक्टर की निगरानी में है। उसका वहां इलाज चल रहा है। पुलिस ने अज्ञात व्यक्ति के खिलाफ रेप की धारा 376 के तहत केस दर्ज किया है। घरवालों और पुलिस को शक है कि यह आसपास रहने वाले किसी शख्स ने किया है।

रात 12 बजे के बाद घर से उठाई बच्ची:
बच्ची के पिता ने बताया कि वे सब सो रहे थे। रात 12 बजे सारे बच्चों पर नजर मारी तो सभी अपनी जगह पर थे। कच्चे शैड में दरवाजे नहीं हैं। बाद में फिर से नींद टूटी तो बेटी नजर नहीं आई। बच्ची को बाहर सड़क पर तलाशा। सब उसे यहां-वहां तलाशते रहे। सुबह के करीब साढ़े तीन बजे बच्ची रोती-बिलखती सड़क पर आती दिखी। उसके होंठ कटे थे, जो सूज गए थे। गले से खून निकल रहा था। बच्ची पास आते ही दर्द से कराहती हुई बेहोश हो गई।

हां पहचान लूंगी उसे:पुलिस ने बच्ची से बात करने की कोशिश की। उससे पूछा कि क्या उस व्यक्ति को तुम पहचान सकती हो। उसने हां में सिर हिलाया। कहा-दिन मेंं भी उसे देखा था। वह बुढ़ा नहीं, बल्कि जवान था। रात को उसने मोटरसाइकिल पर घर के पास फेंका। अगर सामने आएगा तो वह उसे
पहचान लेगी।

बेहद शर्मनाक:बच्ची की जांच सबसे पहले डाॅक्टर अर्चना ने की। उन्होंने बताया कि जब रात को बच्ची को लेकर आए तो उसकी हालत बेहद खराब थी। होंठ पर भी जख्म थे। सूजन के कारण मुंह भी खुल नहीं रहा था। गले पर गहरे घाव मिले। ऐसा लगता था कि उसे घसीटा गया। यह बेहद शर्मनाक है।

जीरकपुर थाना एसएचओ पवन कुमार के मुताबिक, पुलिस ने पिता की शिकायत पर अज्ञात के खिलाफ रेप, किडनैपिंग की धाराओं के तहत केस दर्ज किया है। अभी आरोपी का पता नहीं चला है। उसे पकड़ने के लिए टीम काम कर रही है।

Rate this post

Leave a Comment

Your email address will not be published.

*