Home Chandigarh जेब पर भारी पड़ रहे पेट्रोल-डीजल के उछलते दाम, ट्रांसपोर्टर करेंगे चक्का...

जेब पर भारी पड़ रहे पेट्रोल-डीजल के उछलते दाम, ट्रांसपोर्टर करेंगे चक्का जाम

462
0
Petrol Diesel

कर्नाटक चुनाव के बाद फिर से पेट्रोल व डीजल के भाव में लगातार उछाल देखा जा रहा है। पिछले एक सप्ताह के दौरान पेट्रोल की कीमत में 1.68 रुपये और डीजल में 1.63 रुपये प्रति लीटर का इजाफा हुआ है। माहिरों का मानना है कि अंतरराष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल की बढ़ रही कीमतों का असर घरेलू बाजार में भी देखा जा रहा है। विश्व बाजार में क्रूड ऑयल के दाम 80 डॉलर प्रति बैरल के पार पहुंच गए हैं और अभी क्रूड ऑयल की कीमतों में इजाफे का दौर जारी रहेगा।

उधर, आसमान छू रही कीमतों से परेशान ट्रक ऑपरेटरों ने बीस जुलाई को अखिल भारतीय चक्का जाम करने का ऐलान किया है। काबिलेजिक्र है कि लुधियाना में 23 अप्रैल को पेट्रोल के दाम 80.06 रुपये प्रति लीटर और डीजल के दाम 66.10 रुपये प्रति लीटर थे। 12 मई तक कीमतों में कोई परिवर्तन नहीं किया गया। इसके बाद से लेकर अब तक लुधियाना में पेट्रोल का दाम 80.06 रुपये से बढ़कर 81.74 रुपये और डीजल के रेट 66.10 रुपये से उछलकर 67.73 रुपये प्रति लीटर पर पहुंच गए हैं।

पेट्रो उत्पादों पर केंद्र व राज्य वसूल रहे भारी टैक्स

पेट्रोल पर केंद्र सरकार कुल 19.48 रुपये प्रति लीटर ड्यूटी वसूल कर रही है। जबकि पंजाब सरकार 35.40 फीसद वैट ले रही है। इसी तरह डीजल पर केंद्र 15.33 रुपये ड्यूटी और सूबे की सरकार 16.92 फीसद वैट वसूल कर रही है।

किराया बढ़ाना मजबूरी

ट्रांसपोर्टरों का कहना है कि डीजल की कीमतें लगातार बढ़ रही हैं। इससे धंधा लगातार घाटे में जा रहा है। ऐसे में अब किराया बढ़ाना मजबूरी हो रहा है। लुधियाना ट्रांसपोर्ट वेलफेयर एंड डेवलपमेंट सोसायटी के प्रधान जसमीत सिंह प्रिंस ने कहा कि इसके खिलाफ अखिल भारतीय मोटर ट्रांसपोर्ट कांग्रेस ने बीस जुलाई को देशव्यापी चक्का जाम कर ऐलान किया है।

टैक्स घटाकर जनता को राहत दे सरकार

पंजाब पेट्रोलियम ट्रेडर्स एसोसिशन के महासचिव मनजीत सिंह का कहना है कि सूबे में अन्य राज्यों के मुकाबले पेट्रोल पर काफी अधिक टैक्स वसूला जा रहा है। चंडीगढ़ के मुकाबले पंजाब में पेट्रोल के दाम करीब साढ़े आठ रुपये प्रति लीटर अधिक हैं। ऐसे में वैट की दर अन्य राज्यों के मुकाबले करके जहां जनता को राहत दी जा सकती है, वहीं पेट्रोल पंप मालिकों को धंधा भी बूस्ट किया जा सकता है।

महंगाई को लग सकते हैं पंख

पेट्रो उत्पादों की बढ़ रही कीमतों का असर सभी की जेब पर पड़ रहा है। यदि इसी तरह दाम बढ़ते रहे तो आने वाले वक्त में महंगाई भी आसमान पर पहुंच सकती है। पंजाब प्रदेश व्यापार मंडल के सचिव महेंद्र अग्रवाल का कहना है कि जनता को राहत देने के लिए केंद्र एवं राज्य सरकार को करों में कटौती कर लोगों को राहत देनी होगी। इसके चलते हर चीज महंगी हो रही है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

*