नए-राष्ट्रपति-को-हरियाणा-से-कितने-वोट-मिले-कि-जीत-हासिल-हुई

नए राष्ट्रपति को हरियाणा से कितने वोट मिले कि जीत हासिल हुई

नए राष्ट्रपति को हरियाणा से कितने वोट मिले कि जीत हासिल हुई

देश के नए राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद की जीत का सेहरा हरियाणा के सिर भी बंधा। यहां से कोविंद को कई माननीयों का समर्थन मिला। कोविंद को भाजपा, इनेलो, बसपा सहित पांचों आजाद विधायकों के भी वोट मिले। कांग्रेस के 17 में से 16 विधायक मीरा कुमार को गए, जबकि एक वोट रद्द हुआ है। किस कांग्रेस विधायक का वोट रद्द हुआ, ये अभी फिलहाल पता चलना मुश्किल है।
राष्ट्रपति चुनाव के लिए हरियाणा के सभी 17 कांग्रेस विधायकों ने मतदान किया था, लेकिन किस विधायक से वोट डालने में चूक हुई, इस पर अब चर्चा शुरू हो गई है। हुड्डा खेमे से 13 विधायक हैं, जबकि चार विधायकों का अपना-अपना स्टैंड है। मतदान से पहले पूर्व सीएम भूपेंद्र हुड्डा ने अपने खेमे के सभी विधायकों को मतदान की जानकारी दी थी और वोट डालने से ठीक पहले भी बैठक कर सलाह-मशविरा किया गया था, लेकिन चूक किससे हुई है, अब इसका पता लगाने के लिए दोनों खेमों के जुटने की संभावना है।

कोविंद को भाजपा के 47, इनेलो के 19, बसपा व शिरोमणि अकाली दल (बादल) का एक-एक व पांच आजाद विधायकों के वोट हासिल हुए। एक निर्दलीय विधायक का वोट मीरा कुमार को जाने के कयास लगाए जा रहे थे, लेकिन ये संभव नहीं हुआ। मतदान के बाद उन्होंने कहा था कि अंतरात्मा की आवाज पर वोट किया है। किसी दल से उनका कोई लेना-देना नहीं। मुख्यमंत्री मनोहर लाल के अनुसार माननीयों के अंतरात्मा की आवाज से वोट डालने का लाभ एनडीए प्रत्याशी रामनाथ कोविंद को मिला है।

कोविंद के राष्ट्रपति बनने पर राज्यपाल कप्तान सिंह सोलंकी, सीएम मनोहर लाल, कृषि मंत्री ओपी धनखड़, राज्य मंत्री कर्ण देव कांबोज, भाजपा प्रदेश अध्यक्ष सुभाष बराला व नेता प्रतिपक्ष अभय चौटाला ने बधाई दी है। राज्यपाल व सीएम ने कहा कि योग्यता, सरलता और सादगी की पहचान कोविंद राष्ट्रपति चुने गए हैं। वे गरीब और वंचित लोगों की आकांक्षाओं के प्रतीक हैं।

Rate this post

Leave a Comment

Your email address will not be published.

*