Home Recipes भुने चने में होते हैं प्रोटीन और फाइबर, इस तरह खाने से...

भुने चने में होते हैं प्रोटीन और फाइबर, इस तरह खाने से घटता है मोटापा

557
0
Roasted Chana

चना सेहत के लिए बहुत फायदेमंद माना जाता है। सुबह भीगे हुए अंकुरित चना खाने से शरीर को आयरन, कैल्शियम और कई अन्य जरूरी तत्वों के साथ-साथ विटामिन्स भी मिलते हैं। सेहत के लिहाज से देखें तो भुना चना भी बहुत फायदेमंद होता है। सबसे खास बात है कि लो-कैलोरी होने के कारण ये हेल्दी स्नैक है। भुने चने में कार्बोहाइड्रेट, प्रोटीन, कैल्शियम, आयरन और विटामिन भरपूर होता है। रोजाना भुने चने खाने से शरीर को कई तरह के फायदे मिलते हैं।

मोटापा घटाता है भुना चना

अगर आप मोटापे से परेशान हैं या अपना बढ़ा हुआ पेट अंदर करना चाहते हैं, तो भुना चना आपके लिए बहुत फायदेमंद है। भुने हुए चने में कैलोरी की मात्रा बहुत कम होती है जबकि इसमें ढेर सारे पौष्टिक तत्व जैसे पोटैशियम, कैल्शियम, आयरन, कार्बोहाइड्रेट, प्रोटीन, डाइट्री फाइबर भरपूर होता है। 100 ग्राम भुने चने में केवल 164 कैलोरी होती है। इसलिए अगर आप स्नैक्स टाइम में भुना हुआ चना खाते हैं, तो आपका वजन तेजी से घटता है।

वजन घटाने के लिए कैसे खाएं

वजन घटाने के लिए चने का प्रयोग बहुत आसान है। काले चने को एक घंटे के लिए पानी में भिगाकर रख दें और फिर इसे सूख जाने के बाद रेत और नमक में तेज आंच पर भून लें। आप चाहें तो बाजार से भुने हुए चने ही खरीद सकते हैं। सुबह या शाम के नाश्ते के समय रोज इन चनों को खाएं। इसके अलावा आप चने के साथ चिवड़ा भूनकर भी मिला सकते हैं। चिवड़े में भी कैलोरी की मात्रा बहुत कम होती है। आप चाहें तो भुने चने में सलाद जैसे प्याज, टमाटर, गाजर, मूली, नींबू का रस आदि मिलाकर भी खा सकते हैं।

खून बढ़ाता है चना

चने में आयरन भरपूर होता है। अगर आपको एनीमिया है तो रोजाना भुना चना खाना शुरू कर दें। ध्यान दें कि बिना छिलके वाला चना खाने का लाभ उतना नहीं है, जितना छिलके वाले चने खाने का लाभ है। चना एनिमिया के मरीजों के लिए बहुत फायदेमंद होता है क्योंकि इसके सेवन से शरीर में खून की कमी नहीं होती है। एनीमिया की सबसे ज्यादा शिकार महिलाएं होती हैं इसलिए यह महिलाओं के लिए बहुत फायदेमंद है।

दिनभर रहेंगे एक्टिव

हमें एक्टिव रहने के लिए एनर्जी की बहुत जरूरत होती है। ऐसे में काला चना बड़े काम का होता है। चना खाने से ऊर्जा मि‍लती है। अगर आप चने को गुड़ के साथ लेते हैं तो ये और अधिक फायदा करता है। डायबिटीज के मरीजों के लिए भी चने का सेवन बहुत ही फायदेमंद होता है।

डाइट्री फाइबर से भी है पर्याप्त

फाइबर हमारे शरीर के लिए बहुत जरूरी होता है। काला चना फाइबर से भरपूर होता है, इसलिए यह पाचन क्रिया को सुधारता है। भुने चने को खाने से कब्ज की समस्या में फायदा होता है। इससे पेट भी जल्दी भरता है और ये स्वादिष्ट भी खूब होता है। भुना हुआ चना खाने से पाचन की समस्या नहीं होती है क्योंकि इसमें फाइबर खूब होता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

*