Home Chandigarh यूरोप के बाद चंडीगढ़ में वी एक्स- 2 रॉकेट बॉल गेम का...

यूरोप के बाद चंडीगढ़ में वी एक्स- 2 रॉकेट बॉल गेम का वर्ल्ड कप, कई देशों की टीमें लेंगी भाग

495
0
VX2 Rocket Ball World Cup

सिटी ब्यूटीफुल में पहली बार वी एक्स-2 रॉकेट बॉल गेम का वर्ल्ड कप खेला जाएगा। यह पहली बार होगा जब यूरोप के बाहर इस वर्ल्ड कप का आयोजन किया जा रहा है और इस वर्ल्ड कप के लिए चंडीगढ़ जैसे शहर को चुना गया है। इसके मुकाबले सेक्टर-43 स्थित स्पोर्ट्स कांप्लेक्स के स्क्वैश सेंटर में 17 से 19 अगस्त तक खेले जाएंगे। इंग्लैंड की टीम हैड कोच पॉल हेल्ड्रिथ की अगुवाई में चंडीगढ़ पहुंच चुकी है। वर्ल्ड कप में इंग्लैंड, हांगकांग, यूगांडा, यूएसई, भारत, नेपाल की टीमें शिरकत कर रही हैं।

इंग्लैंड और यूरोप में वी एक्स- 2 रॉकेट बॉल गेम को काफी खेला जाता है। भारत में यह खेल धीरे-धीरे जाना जाने लगा है। चंडीगढ़ में कुछ लोग इस खेल को खेलना जानते हैं और वह विदेशों में इस खेल के कंपीटीशन में हिस्सा ले चुके हैं। गुरूवार को चंडीगढ़ में वी एक्स-2 रॉकेट बाल गेम की एक प्रेस वार्ता का आयोजन किया गया।

इसमें इंग्लैंड टीम के खिलाड़ी और उनके हैड कोच पॉल हेल्ड्रिथ भी मौजूद रहे। उन्होंने बताया कि कि 2006 से यह गेम शुरू हुई थी। अब यह खेल काफी प्रसिद्ध हो चुका हैं। भारत के लोगों में यह खेल अपनी जड़े तलाशने में लगा हुआ है। हेल्ड्रिथ ने कहा कि वर्ल्ड कप में हिस्सा लेने वाली भारतीय टीम के कुछ सदस्यों को गुरूवार को जिस लगन से अभ्यास कर रहे थे, मुझे काफी प्रभावित किया।

नेवी, आर्मी, वायुसेना के लोग भी खेलते हैं

वर्ल्ड कप में हिस्सा ले रही इंग्लैंड टीम में 23 वर्षीय डेन रेपर नेवी में काम करते थे। इन्होंने बताया कि हमारे वहां ट्राई सीरीज खेली जाती है। इसमें नेवी, आर्मी, वायुसेना के लोग हिस्सा लेते हैं। जॉब से टाइम निकालकर वह अपने साथियों के साथ टूर्नामेंट में हिस्सा लेते रहते हैं। भारत में पहली बार वर्ल्ड कप को खेलने पर काफी उत्साहित हूं। डेन ने कहा वह इस खेल के लिए खुद अपने खर्चे से भारत आए है।

पहले खिलाड़ी अब कोच

स्पोर्ट्स डिपार्टमेंट में सीनियर कबड्डी कोच दविंदर सिंह कोहली वी एक्स-2 रॉकेट बॉल गेम को खुद एक खिलाड़ी के रूप में खेल चुके है। वह विदेश में भारत की ओर से खेल चुके हैं। इस वर्ल्ड कप में वह भारतीय टीम के कोच की भूमिका में होंगे।

ऐसे खेला जाता है

वी एक्स-2 रॉकेट बाल गेम स्क्वैश कोर्ट पर खेला जाता है। इसमें आमने-सामने दो टीमों के एक-एक खिलाड़ी खेलते हैं। दो सेट की एक गेम होती है। कुल मुकाबला चार मिनट का होता है। एक मिनट का ब्रेक दिया जाता है। मुकाबला अगर टाई हो जाए तो एक्स्ट्रा टाइम से मैच का निर्णय किया जाता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

*