Home Cricket ‘विराट सेना’ ने अंग्रेजों से वसूला दोगुना लगान, इन 5 धुरंधरों ने...

‘विराट सेना’ ने अंग्रेजों से वसूला दोगुना लगान, इन 5 धुरंधरों ने यूं पलटा मैच टीम इंडिया के नाम

373
0
T20

ब्रिस्टल में खेले गए टी-20 सीरीज के आखिरी और निर्णायक मुकाबले में टीम इंडिया ने इंग्लैंड को धूल चटाकर 3 मैचों की टी-20 सीरीज 2-1 से अपने नाम की। इस जीत के साथ ही भारतीय टीम ने लगातार 6 टी-20 सीरीज जीतने का रिकॉर्ड भी बना दिया है। आइए एक नजर डालते हैं उन 5 धुरंधरों पर जिनके दम पर ही टीम इंडिया यह ऐतिहासिक जीत हासिल करने में कामयाब हो पाई।

रोहित शर्मा- टीम इंडिया की जीत की बुनियाद रखी ओपनर रोहित शर्मा ने, जो पहले से ही सेट होकर आए थे। रोहित शर्मा ने क्रीज पर उतरते ही छक्के-चौकों की बरसात कर दी।

हालांकि शिखर धवन के तौर पर टीम इंडिया ने पहला विकेट जल्द गंवा दिया लेकिन रोहित शर्मा इंग्लैंड के गेंदबाजों से रोके नहीं रुके।

भारत ने 4.5 ओवर में 50 रन पूरे किए और पावर प्ले में 70 रन बनाए। रो’हिट’ ने 56 गेंदों में नाबाद 100 रन बनाकर भारत की जीत तय की, इसके लिए उन्हें ‘मैन ऑफ द मैच’ के साथ-साथ ‘मैन ऑफ द सीरीज’ से भी नवाजा गया।

हार्दिक पांड्या- रोहित के अलावा भी कुछ ऐसे खिलाड़ी थे जिन्होंने इस मैच में अपनी भूमिकाएं निभाईं, इन्हीं में हार्दिक पांड्या भी थे। पहले ओवर में 22 रन लुटाने के बाद जबरदस्त वापसी करते हुए पांड्या ने अपने अगले 3 ओवर में सिर्फ 16 रन खर्च करते हुए 4 अहम विकेट (इयोन मॉर्गन, ऐलेक्स हेल्स, बेन स्टोक्स, जॉनी बेरस्टो) झटके।

नतीजतन पांड्या ने 4 ओवर में 38 रन देते हुए 4 विकेट लिए जो उनका बेस्ट प्रदर्शन है।

इसके बाद बल्लेबाजी में भी हार्दिक ने फैंस का जमकर मनोरंजन किया। इसके बाद जब बल्लेबाजी की बारी आई तो वो रैना-धोनी से पहले पांचवें नंबर पर पिच पर उतरे और रोहित का साथ देते हुए 14 गेंदों में नाबाद 33 रन की पारी खेली, जिसमें 2 छक्के और 4 चौके शामिल थे।

विराट कोहली- इंग्लैंड में यह भारत की पहली टी-20 सीरीज जीत है। भारत का कोई कप्तान यह कारनामा नहीं कर सका था लेकिन विराट की अगुवाई में हिंदुस्तान ने इंग्लैंड में तिरंगा लहरा दिया।

चौथे नंबर पर बल्लेबाजी करने आए विराट ने रोहित के साथ अहम 89 रन की साझेदारी करते हुए 15वें ओवर में ही 150 रन पूरे कर लिए।

विराट कोहली जरूर अपने अर्धशतक से 7 रन पहले क्रिस जॉर्डन की गेंद पर आउट हो गए, लेकिन डगआउट होने से पहले वह टीम इंडिया को ऐतिहासिक जीत की राह दिखा चुके थे।

29 गेंदों में खेली अपनी 43 रन की पारी में कैप्टन कोहली के बल्ले से 2 चौके और 2 छक्के भी आए।

सिद्धार्थ कौल- टीम इंडिया की इस जीत में मध्यम तेज गेंदबाज सिद्धार्थ कौल का अहम रोल रहा। जिस वक्त इंग्लैंड के दोनो सलामी बल्लेबाज मैदान पर भारतीय गेंदबाजों की जमकर धुनाई कर रहे थे, ऐसे मौके पर कौल ने ही टीम इंडिया को पहली और अहम सफलता दिलाई।

8 ओवर से पहले ही इंग्लैंड का स्कोर 94 रन हो चुका था। जोस बटलर और जेसन रॉय के बल्ले से चौके-छक्को की बरसात हो रही थी। स्कोर 250 से ऊपर जाते दिख रहा था, तभी अपना दूसरा अंतरराष्ट्रीय टी-20 मैच खेल रहे सिद्धार्थ ने बटलर को बोल्ड कर टीम इंडिया की मैच में वापसी कराई।

28 वर्षीय इस खिलाड़ी ने 4 ओवर्स में महज 35 रन देते हुए 2 विकेट अपने नाम किए।

आईपीएल में अच्छे प्रदर्शन का फल देते हुए उन्हें आयरलैंड के खिलाफ दूसरे और अंतिम टी-20 मुकाबले में डेब्यू करने का मौका मिला, जिसके साथ वह भारत के 75वें टी-20 खिलाड़ी बने।

एमएस धोनी- कैप्टन कूल के नाम से मशहूर विकेटकीपर बल्लेबाज एमएस धोनी को अगर इस ऐतिहासिक जीत का अनसंग हीरो कहा जाए तो गलत नहीं होगा।

हालांकि उन्हें बल्लेबाजी करने का मौका नहीं मिला, लेकिन विकेट के पीछे उन्होंने बीती रात कमाल कर दिया।

इंग्लैंड के 9 विकेट में से 5 में धोनी का योगदान रहा। धोनी ने इस मैच में न सिर्फ 5 कैच लपके बल्कि कई विश्व रिकॉर्ड भी अपने नाम किए। धोनी एक टी-20 इंटरनेशनल पारी में विकेट के पीछे 5 कैच लेने वाले विश्व के पहले विकेटकीपर बने हैं।

धोनी ने एक ही दिन दो वर्ल्ड रिकॉर्ड बनाए और नंबर-1 बन गए। एमएस धोनी टी-20 इंटरनेशनल क्रिकेट में 50 या इससे अधिक कैच लेने वाले विश्व के पहले विकेटकीपर भी बने।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

*