Blue Bottle Jellyfish

सावधान! मुंबई में समंदर किनारे आई ‘नीली आफत’, 150 लोग बन चुके हैं शिकार

नेशनल डेस्क: महाराष्ट्र की राजधानी मुंबई के लोग इन दिनों डर के साय में जी रहे हैं। समंदर किनारे सैर-सपाटा लोगों के लिए खतरनाक साबित हो रहा है। दरअसल मुंबई के समुद्री तटों पर ब्लू बॉटल जेलीफिश देखी जा रही है जिसके डंक से 150 से ज्यादा लोग घायल हो चुके हैं। इन घटनाओं को देखते हुए सरकार ने एडवाइजरी जारी कर दी है।

सरकार ने जारी की एडवाइजरी

प्रशासन ने शहर के जुहू, अक्सा और गिरगांव चौपाटी के बीचों पर लोगों को न जाने की हिदायत दी है। जेलिफिश के डंक से घंटो तक दर्द और खुजली होती है। इनका डंक मछलियों की जान भी ले लेता है। एक्सपर्ट्स के अनुसार हर साल मॉनसून के वक्त समुद्री किनारों पर जेलिफिश आ जाती हैं। यह उनका रीप्रोडक्शन का समय होता है। इनके संपर्क में आने पर दर्द का अनुभव होता है और जिस बॉडी पार्ट के टच में आते हैं वो सुन्न हो जाता है। कई केस में इनके टच की वजह से बहरेपन की भी शिकायत मिली है। विशेषज्ञों की सलाह है कि लंबे वक्त तक दर्द रहने पर मेडिकल सहायता मुहैया करानी चाहिए।

कैसे करें बचाव

जुहू बीच स्थित एक दुकानदार ने बताया कि जब ये फिश किसी को चोट पहुंचाती हैं, तो उस जगह पर हम नींबू लगा देते हैं। इससे लोगों को राहत मिलती है। अक्सा, वर्सोवा और गिरगांव बीच से भी ऐसी ही शिकायत मिल रही हैं। स्थानीय लोगों का कहना है कि जेलफिश हर साल अगस्त सितंबर में मुंबई के तटों पर दिखाई देती हैं लेकिन इस बार इनकी संख्या बहुत ज्यादा है।

Rate this post

Leave a Comment

Your email address will not be published.

*