सावन के पहला दिन और पहला सोमवार

सावन के पहला दिन और पहला सोमवार

सावन के पहला दिन और पहला सोमवार

सावन के पहला दिन और पहला सोमवार को मंदिरों में बड़ी संख्या में शिव भक्तों ने भगवान का जलाभिषेक किया। हर हर महादेव के जयकारे से शिवालय गूंज उठा। सुबह से ही भक्त मंदिर पहुंचने लगे। शाम में भगवान का भव्य शृंगार हुआ। मदिरों में महिला मंडली की ओर से कीर्तन का आयोजन किया गया।
सेक्टर-30 के शिव शक्ति मंदिर के प्रमुख पुजारी श्याम सुंदर शास्त्री ने बताया कि सुबह भगवान के जलाभिषेक के बाद शाम में भव्य शृंगार हुआ। मंदिर की प्रधान शकुंतला और महासचिव सुभाष तलवार ने बताया कि महिला मंडल की महिलाओं ने कीर्तन किया। सेक्टर-40 के श्री राधाकृष्ण मंदिर में भी बड़ी संख्या में भक्तों ने जलाभिषेक किया।

सेक्टर-18 के श्री राधा कृष्ण मंदिर में सुबह खीर और मालपुए का प्रसाद बांटा गया। मंदिर के प्रधान सुनील चोपड़ा ने बताया कि मंदिर में कीर्तन का भी आयोजन हुआ। सेक्टर-38 के श्री सनातन धर्म मंदिर में भी भक्तों की भीड़ रही। सेक्टर-32 स्थित प्राचीन श्री हनुमान मंदिर में भक्तों ने भगवान का जलाभिषेक किया।

सेक्टर-46 के श्री सनातन धर्म मंदिर के प्रधान जतिंदर भाटिया ने बताया कि मंदिर में खीर मालपुए का प्रसाद बांटा गया। बड़ी संख्या में भक्त मंदिर में जलाभिषेक के लिए पहुुंचे। सावन में हर रोज कीर्तन का आयोजन होगा। सेक्टर-30 के श्री महाकाली मंदिर के प्रधान राकेश पॉल मौदगिल ने बताया कि मंदिर स्थित शिवालय में काफी संख्या में लोग जलाभिषेक के लिए पहुंचे।

भगवान पारदेश्वर का भी अभिषेक किया गया। उन्होंने बताया कि शनिवार और सोमवार को खीर और मालपुए का लंगर का आयोजन होगा। लंगर बुक कराने के लिए सितंबर तक इंतजार करना होगा। सेक्टर-21 के प्राचीन शिव मंदिर, सेक्टर-8 के प्राचीन शिव मंदिर में भक्तों की काफी भीड़ रही।

सेक्टर-45 के गोशाला स्थित शिवालय में भगवान शिव का जलाभिषेक के बाद खीर और मालपुए का प्रसाद बांटा गया। गोशाला का संचालन गौरी शंकर सेवादल करती है। गौरी शंकर सेवादल के प्रधान रमेश कुमार निक्कू ने बताया कि बड़ी संख्या में भक्त शिवालय में जलाभिषेक किए।

Rate this post

Leave a Comment

Your email address will not be published.

*