हर-घंटे-चार-फाइल-ही-इस-परमिशन-से-जांची-जाएगी

हर घंटे चार फाइल ही इस परमिशन से जांची जाएगी

हर घंटे चार फाइल ही इस परमिशन से जांची जाएगी

आरएलए की ओर से आरसी और डीएल बनाने के लिए ऑनलाइन अप्वाइंटमेंट दी गई। लेकिन अब तक इसके लिए काउंटर नहीं बनाए गए हैं। इस कारण यहां पर डीएल और आरसी बनवाने आए लोगों को मंगलवार को परेशानी का सामना करना पड़ा।
आरएलए की ओर से मंगलवार को पासपोर्ट विभाग की तर्ज पर अप्वाइंटमेंट सिस्टम शुरू किया गया है। इसमें पहले दिन डीएल और आरसी बनवाने के लिए महज तीन लोगाें ने आवेदन किए। इसमें सुबह 9 से शाम 4 बजे तक 24 फाइलें डीएल और आरसी की बन सकती है। हर फाइल के लिए इस काउंटर पर 15 मिनट का समय लगेगा।

हर घंटे चार फाइल ही इस परमिशन से जांची जाएगी। डीएल और आरसी के लिए अप्वाइंटमेंट सिस्टम का काउंटर अलग नहीं बनाए जाने के कारण लोगाें को परेशानी हुई। वहीं जागरूकता के लिए बाहर कोई बोर्ड नहीं लगाया गया है। इस कारण यहां पर आने वाले लोगाें को पता ही नहीं था कि ऑनलाइन पासपोर्ट की तर्ज पर आरसी और डीएल के लिए यह व्यवस्था शुरू की गई है।

दफ्तर में इसी काम के लिए अनूप ने बताया कि डीएल के अप्वाइंटमेंट की जानकारी नहीं है। इंक्वायरी काउंटर पर भी यह जानकारी नहीं मिली कि कैसे यह अप्वाइंटमेंट सिस्टम काम कर रहा है। इस कारण पांच घंटे से अधिक का समय बीत गया है । टोकन लेने के बाद भी फाइल नहीं जमा हो पाई है।

वहीं सूरज ने बताया कि आरएलए की ओर से शुरू की गई सभी योजनाओं के बारे में नहीं बताया गया है। इस कारण डीएल और आरसी बनने की जानकारी नहीं हैं अप्वाइंटमेंट सिस्टम ठीक है लेकिन इसकी जागरूकता लोगों को होनी चाहिए।

आरएलए की ओर से ऑनलाइन अप्वाइंटमेंट सिस्टम की व्यवस्था शुरू कर दी गई है। जल्द ही आरएलए में बोर्ड लगाकर लोगों को इसके बारे में जानकारी दी जाएगी।

Rate this post

Leave a Comment

Your email address will not be published.

*