हिरासत-में-बुड़ैल-जेल-भेज-दिया

हिरासत में बुड़ैल जेल भेज दिया

हिरासत में बुड़ैल जेल भेज दिया

सीबीआई ने चंडीगढ़ पॉल्यूशन कंट्रोल कमेटी के सदस्य सचिव आईएफएस बीरेंद्र चौधरी को एक लाख रुपये रिश्वत लेते रंगेहाथ गिरफ्तार किया है। चौधरी चार प्राइवेट फर्म के मालिकों से 25-25 हजार रुपये रिश्वत मांगने का आरोप है। सीबीआई ने चौधरी को सोमवार रात 9:30 बजे उनके घर के पास एक पार्क से दबोचा। सीबीआई ने चौधरी के खिलाफ पीसी एक्ट 7 के तहत केस दर्ज कर उसे मंगलवार को जिला अदालत में पेश किया। अदालत ने उसे न्यायिक हिरासत में बुड़ैल जेल भेज दिया।
मामले की शिकायत एक आरा मशीन का काम करने वाली फर्म के मालिक राजेंद्र कुमार ने दर्ज कराई थी। सीबीआई की एंटी क्रप्शन ब्रांच के डीएसपी जगदीश के अनुसार उन्हें शिकायत मिली थी कि पॉल्यूशन कंट्रोल कमेटी के मेंबर सेक्रेटरी वीरेंद्र चौधरी ने 2016 में शहर के कई आरा मशीन संचालकों समेत कई अन्य यूनिट को कारण बताओ नोटिस भेजे थे। इस पर शिकायतकर्ता अन्य फर्म संचालकों के साथ अपना पक्ष रखने के लिए कई बार चौधरी से मिले। लेकिन उन्होंने उनका पक्ष नहीं सुना।

इस बीच एक दिन शिकायतकर्ता तीन अन्य फर्म संचालकों के साथ इस मुद्दे को लेकर चौधरी से मिलने गए। बातचीत के दौरान आईएफएस चौधरी ने उनके खिलाफ कोई कार्रवाई न करने की एवज में चारों से 50-50 हजार रुपये रिश्वत के तौर पर मांगे। हालांकि इसके बाद चारों से एक लाख रुपये में बातचीत तय हुई। शिकायतकर्ता के जरिए पैसे देने की बात तय हुई।

Rate this post

Leave a Comment

Your email address will not be published.

*