Home India News 84 दंगों में राजीव गांधी की भूमिका की जांच हो : फूलका

84 दंगों में राजीव गांधी की भूमिका की जांच हो : फूलका

412
0
1984 Riots

जेएनएन, चंडीगढ़। आम आदमी पार्टी के विधायक एचएस फूलका ने कहा है कि 1984 के दंगों में पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी की भूमिका की जांच की जानी चाहिए। उनका बयान कांग्रेस नेता जगदीश टाइटलर के उस टीवी साक्षात्कार के बाद आया है, जिसमें उन्होंने कहा था कि इंदिरा गांधी की हत्या के अगले दिन यानी 1 नवंबर 1984 को राजीव गांधी एक अंबेसडर कार को खुद ड्राइव करके दंगा प्रभावित क्षेत्रों में गए थे।

फूलका ने कहा कि वह केंद्र से अपील कर रहे हैं कि टाइटलर के बयान को आधार बनाकर फिर से मामले की जांच की जाए। विशेष जांच दल का गठन करने की आवश्यकता पर उन्होंने जोर दिया। फूलका का कहना था कि उन्हें पता चला है कि कांग्रेस राजीव के दंगाग्रस्त क्षेत्रों में दौरे को भीड़ को मनाने की कवायद का हिस्सा करार दे रही है।

उनका कहना है कि कांग्रेस मान रही है कि राजीव दंगा प्रभावित क्षेत्रों में गए थे। उनकी अपील का कोई असर नहीं हुआ, क्योंकि दंगे उनके दौरे के बाद भी जारी थे। गौरतलब है कि इन दंगों में 21 सौ लोग दिल्ली में मारे गए जबकि700 लोगों को देश के विभिन्न हिस्सों में जान गंवानी पड़ी।

बत दें कि टाइटलर ने कहा था कि उनके साथ खुद टाइटलर व एक सुरक्षा गार्ड था। कांग्रेस नेता का कहना था कि राजीव गांधी चाहते थे कि दंगे की आग न भड़के। इसके लिए उन्होंने किंग्जवे कैंप, सब्जी मंडी के साथ एचकेएल भगत व सज्जन कुमार के संसदीय क्षेत्रों का भी दौरा दिया था। टाइटलर के मुताबिक राजीव बेहद गुस्से में थे। उन्होंने पार्टी नेताओं को हिदायत दी थी कि हिंसा रोकने का हरसंभव उपाय हो।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

*