Home Chandigarh Navjot Sidhu Absent From Cabinet Meeting Black Ink Pasted On Poster

Navjot Sidhu Absent From Cabinet Meeting Black Ink Pasted On Poster

322
0
Navjot Sidhu

पुलवामा आतंकी हमले के बाद अपने बयान से विवादों में घिरे निकायमंत्री नवजोत सिद्धू रविवार को कैबिनेट की अहम बैठक में शामिल नहीं हुए। उनके पोस्टर पर कालिख पोती गई है। बता दें कि इस बैठक में बजट आदि पेश किए जाने को मंजूरी दी जानी थी। वहीं सिद्धू ने पुलवामा हमले के बाद अपने दोस्त और पाक पीएम इमरान खान का बचाव किया था।

उन्होंने कहा था कि कुछ लोगों की वजह से पूरे देश या किसी एक व्यक्ति को दोषी नहीं ठहराया जा सकता। उसी दिन से हर तरफ सिद्धू का विरोध शुरू हो गया था। दूसरी तरफ सीएम कैप्टन अमरिंदर सिंह ने विधानसभा में खुल कर इमरान और पाक सेना प्रमुख कमर जावेद बाजवा को लताड़ा था। अपनी ही पार्टी के खिलाफ जाकर बयान देने के बाद सिद्धू विपक्ष के साथ-साथ कांग्रेसियों के निशाने पर भी आ गए थे।

सिद्धू के पोस्टर पर कालिख पोती
गुरु नगरी में भाजपा युवा मोर्चा के कार्यकर्ताओं ने पुलवामा आतंकी हमले पर विवादित बयान देने वाले मंत्री नवजोत सिद्धू के पोस्टर पर कालिख पोत कर रोष प्रदर्शन किया। भाजपा कार्यकर्ताओं ने सिद्धू के विरुद्ध नारेबाजी की। प्रदर्शन के बाद भाजपाइयों ने सिद्धू के पोस्टर को आग लगा दी। इस अवसर पर भाजपा युवा मोर्चा के जिला प्रधान गौतम अरोरा ने कहा कि भाजयुमो कार्यकर्ता सिद्धू के लिए विशेष तौर पर पायल लेकर आए। सिद्धू को अगर पाकिस्तान से इतना ही प्रेम है तो उन्हें पाकिस्तान जाकर वहां अपना राजनितिक भविष्य बनाना चाहिए।

सीएम बोले- ऐसा नहीं कर सकता

सूत्रों के अनुसार कैबिनेट की मीटिंग के दौरान सिद्धू पर भी चर्चा हुई। सिद्धू द्वारा दिया बयान चर्चा का विषय बना। एक मंत्री ने कहा कि सिद्धू अपने स्थानीय निकाय विभाग के कुछ कार्यक्रमों में हिस्सा लेने उनके क्षेत्र में आने वाले हैं। वहां के भाजपा कार्यकर्ताओं ने उनका डट कर विरोध करने की तैयारी कर रखी है। सरकार की बेवजह फजीहत होगी, इसलिए उन्हें वहां आने से रोका जाए। सीएम ने कहा कि वह किसी मंत्री को कार्यक्रम में हिस्सा लेने से नहीं रोक सकते। गौरतलब है कि पहले भी खराब परिस्थितियों के चलते सिद्धू कैबिनेट की मीटिंग से गैर हाजिर रह चुके हैं। एक बार उन्होंने सीएम के खिलाफ खुल कर बयान दिया था, तब भी कैबिनेट में नहीं आए थे।

आतंक को जड़ से खत्म करना जरूरी: सिद्धू
100 करोड़ रुपये की लागत से दीनानगर शहर की कायाकल्प की जाएगी। शहर के बुनियादी ढांचे के विकास के लिए फंड की कोई कमी नहीं आने दी जाएगी। यह विचार कैबिनेट मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू ने दीनानगर के सिविल अस्पताल के पास 35.53 करोड़ रुपये की लागत से सीवर ट्रीटमेंट प्लांट, निकट गांव दबुर्जी और दीनानगर के 100 फीसदी सीवरेज एवं वाटर सप्लाई के विकास कार्यों का नींव पत्थर रखने के बाद कहे।

इस मौके पर कैबिनेट मंत्री अरुणा चौधरी, सीनियर कांग्रेसी नेता अशोक चौधरी, डीसी विपुल उज्ज्वल और अभिनव चौधरी मौजूद थे। विकास कार्यों का नींव पत्थर रखने के बाद सिद्धू पुलवामा हमले में शहीद मनिंदर सिंह के घर गए और परिजनों के साथ शोक जताया।

उन्होंने शहीद के पिता सतपाल और भाई लखविंदर सिंह के साथ दुख जताते हुए कहा कि पंजाब सरकार शहीद परिवारों के दुख में शामिल है और शहीद परिवार का पूरा मान-सम्मान किया जाएगा। जिन्होंने घिनौना काम किया है, उनके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जानी चाहिए। आतंकियों का कोई धर्म और मजहब नहीं होता, इन्हें जड़ से खत्म किया जाना चाहिए।

सिद्धू का विरोध कर रहे भाजयुमो कार्यकर्ताओं को पुलिस ने पकड़ा

कैबिनेट मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू के होशियारपुर पहुंचने पर भाजपा युवा मोर्चा के प्रदेश उपाध्यक्ष नितिन गुप्ता नन्नू और जिलाध्यक्ष रणजीत सिंह राणा की अगुवाई में भाजपा वर्करों ने काली झंडियां दिखाई। इस मौके पर समारोह वाली जगह पर पहुंचने से रोकने के लिए पुलिस प्रशासन द्वारा पुख्ता प्रबंध किए गए थे और प्रदर्शनकारियों को पुलिस ने रास्ते में ही काबू कर लिया।

इस मौके पर नेताओं ने कहा कि मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू पुलवामा हमले पर बेतुकी बयानबाजी कर रहे हैं। सिद्धू पर देशद्रोह का मामला दर्ज होना चाहिए। सिद्धू का विरोध आगे भी जारी रहेगा। वहीं भाजपा के प्रदर्शन के विरोध में प्रदेश कांग्रेस सेवा दल संयोजक एडवोकेट पंकज कृपाल की अगुवाई में कांग्रेसी वर्करों ने जिला परिषद दफ्तर के सामने प्रदर्शन किया।

इस मौके पर एडवोकेट पंकज कृपाल ने कहा कि सिद्धू ने न तो पुलवामा में शहीद हुए जवान का कोई अपमान किया है तथा न ही पाकिस्तान के समर्थन में कोई बयान दिया है। उन्होंने कहा कि सारी कांग्रेस नवजोत सिंह सिद्धू के साथ खड़ी है। भाजपा अपनी नाकामी छुपाने के लिए नवजोत सिंह सिद्धू को बदनाम कर रही है। उन्होंने कहा कि सिद्धू के बयान को तोड़ मरोड़कर पेश करना किसी भी तरह से न्याय संगत नहीं है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

*