Home News Punjab Minister Seeks Navjot Singh Sidhu’s Resignation

Punjab Minister Seeks Navjot Singh Sidhu’s Resignation

373
0
Navjot Singh Sidhu's

कैबिनेट मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू फिर विवाद में फंस गए हैं। इस बार विवाद खड़ा हुआ है उनके सीएम कैप्टन अमरिंदर सिंह पर दिए, ‘कौन कैप्टन, वह सिर्फ आर्मी के कैप्टन, मेरे कैप्टन राहुल गांधी’ वाले बयान पर खड़ा हुआ है। अपनी ही सरकार के 4 मंत्रियों और एक पूर्व मंत्री इस बयान पर सिद्धू से खफा हैं। उन्होंने सिद्धू के इस्तीफे तक की मांग की है। तय है कि सोमवार को होने वाली कैबिनेट मीटिंग में यह मुद्दा गरमाएगा। शुक्रवार को हैदराबाद में चुनाव प्रचार के दौरान सिद्धू ने ये बयान दिया था।

ग्रामीण विकास एवं पंचायत मंत्री तृप्त राजिंदर सिंह बाजवा, राजस्व मंत्री सुखबिंदर सिंह सुखसरकारिया, वन मंत्री साधू सिंह धर्मसोत व खेल मंत्री राणा गुरमीत सिंह सोढी और पूर्व मंत्री राणा गुरजीत सिंह ने सिद्धू के बयान पर नाराजगी जताई।

चंडीगढ़ और जालंधर में दिए बयान में बाजवा ने कहा ‘अगर सिद्धू सीएम अमरिंदर सिंह को अपना कैप्टन नहीं मानते तो उन्हें नैतिक आधार पर कैबिनेट से इस्तीफा दे देना चाहिए। इसके बाद वह वहीं जाकर काम करें, जहां राहुल गांधी उनकी ड्यूटी लगाएं। हमारे कैप्टन सीएम अमरिंदर सिंह ही हैं। सिद्धू एक्स्ट्रा आर्डिनेरी हैं। उनका करियर उन्हें दूर तक ले जाने वाला है। इसलिए उन्हें हर बात सोचकर बोलनी चाहिए।’ अमृतसर के सांसद गुरजीत सिंह औजला ने भी सिद्धू को कैप्टन से माफी मांगने को कहा है।

इधर… 24 घंटे में ही पलटे सिद्धू, बोले- राहुल ने पाक जाने को कभी नहीं कहा

कहा- दुनिया जानती है, मैं इमरान खान के निजी न्योते पर गया था पंजाब के स्थानीय निकाय मंत्री और वरिष्ठ कांग्रेस नेता नवजोत सिंह सिद्धू पार्टी अध्यक्ष राहुल गांधी के निर्देश पर पाकिस्तान जाने के बयान से 24 घंटे के अंदर ही मुकर गए। सिद्धू ने शनिवार को ट्वीट किया, ‘गलत बयानी करने से पहले अपनी जानकारी ठीक कर लीजिए।

राहुल गांधी ने मुझे कभी पाकिस्तान जाने के लिए नहीं कहा। पूरी दुनिया जानती है कि मैं प्रधानमंत्री इमरान खान के निजी न्योते पर पाकिस्तान गया था।’ हालांकि, शुक्रवार को हैदराबाद में चुनाव प्रचार करने पहुंचे सिद्धू ने कहा था, ‘मेरे कैप्टन राहुल गांधी हैं।

उन्होंने ही मुझे पाकिस्तान भेजा।’ पत्रकारों के सवालों पर अपने मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह का मजाक उड़ाते हुए सिद्धू ने कहा था, “वह सेना के कैप्टन हैं। मेरे लिए कैप्टन राहुलजी हैं। राहुल गांधी अमरिंदर के भी कैप्टन हैं।’ अमरिंदर ने पाकिस्तान का न्योता ठुकराते हुए करतारपुर साहिब जाने से इनकार कर दिया था। साथ ही कहा था कि उन्होंने सिद्धू से कहा था कि वह पाक जाने के फैसले पर एक बार विचार करें।

पांच राज्यों में विधानसभा चुनाव के बीच 28 नवंबर को करतारपुर कॉरिडोर के शिलान्यास में वह फिर पाकिस्तान गए थे। वहां खालिस्तान समर्थक गोपाल चावला के साथ फोटो आने के बाद वह फिर विवादों में थे। अभी ये मामला ठंडा भी नहीं पड़ा था कि कैप्टन पर दिए बयान से वह फिर विवादों में हैं।

किस कांग्रेस नेता ने क्या कहा…

राणा गुरजीत सिंह: सिद्धू के बयान से माहौल खराब हुआ।
सुखजिंदर सिंह सरकारिया: सिद्धू अगर कैप्टन की लीडरशिप में काम नहीं कर सकते तो इस्तीफा दें।
साधू सिंह धर्मसोत: सिद्धू के बयान सुनकर दुख हुआ। उन्हें बड़ों का सत्कार करना सीखना चाहिए।
राणा गुरमीत सिंह सोढी: सिद्धू न भूलें, कैप्टन मान वाले नेता। उनके बारे में सोच-समझकर बयान दें

नई नहीं है दोनों नेताओं में खींचतान…

सिद्धू व कैप्टन के बीच खींचतान नई नहीं है। चुनाव से ठीक पहले सिद्धू की कांग्रेस में एंट्री को लेकर कैप्टन बहुत अधिक उत्साहित नहीं थे, लेकिन आलाकमान के आदेश पर सिद्धू को कांग्रेस में जगह मिल गई। कैबिनेट में भी अहम विभाग मिला, जिसमें सिद्धू ने तुरंत कई बड़े फैसले लिए, लेकिन कैप्टन ने इन पर हामी नहीं भरी। हालांकि, सिद्धू कहते रहे हैं कि कैप्टन उनके पिता समान हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

*