VIP-कल्चर-की-आखिरी-निशानी-की-भी-जल्द-विदाई-हो-जाएगी

VIP कल्चर की आखिरी निशानी की भी जल्द विदाई हो जाएगी

VIP कल्चर की आखिरी निशानी की भी जल्द विदाई हो जाएगी

लालबत्ती के बाद VIP कल्चर की आखिरी निशानी की भी जल्द विदाई हो जाएगी। इसके बाद सभी एक समान हो जाएंगे।

दरअसल, लाल बत्ती के बाद अब माननीयों का हूटर भी जाएगा। राज्य सरकार ने वीआईपी कल्चर की आखिरी निशानी हूटर को भी खत्म करने की तैयारी कर ली है। मुख्यमंत्री कार्यालय के निर्देश के बाद जल्द ही ट्रांसपोर्ट विभाग इस संबंध में नोटिफिकेशन जारी कर देगा। कांग्रेस ने अपने चुनावी मेनिफेस्टो में राज्य से वीआईपी कल्चर खत्म करने का वादा किया था। सूबे में सबसे पहले यह बात वित्तमंत्री मनप्रीत बादल ने की थी। 2012 के विधानसभा चुनाव में पीपुल्स पार्टी ऑफ पंजाब के प्रमुख के तौर पर उन्होंने लोगों से यह वादा किया था। कांग्रेस में आने के बाद वह मेनिफेस्टो कमेटी के कनवीनर थे। इस वादे को उन्होंने अहमियत दी। सरकार के गठन के बाद पहली ही कैबिनेट बैठक में लाल बत्ती खत्म कर पंजाब ने देश के मिसाल कायम की थी। इसके बाद उत्तर प्रदेश और फिर केंद्र सरकार ने इसका अनुसरण किया। जानकारी के मुताबिक मुख्यमंत्री को फीडबैक मिला था कि लाल बत्ती हटने के बाद भी माननीयों का रुतबा कायम है। अब वह अपने वीआईपी होने के सबूत के तौर पर हूटर का प्रयोग कर रहे हैं। इसके बाद हूटर को भी खत्म करने का फैसला किया गया है। सीएम कार्यालय से ट्रांसपोर्ट विभाग को निर्देश जारी कर नोटिफिकेशन करने को कहा गया है। इसके मुताबिक अब सिर्फ एंबुलेंस समेत उन्हीं वाहनों में हूटर या सायरन का प्रयोग किया जा सकेगा, जिनमें बत्ती की इजाजत है। बाकी कोई भी वीआईपी हूटर का प्रयोग नहीं कर सकेगा। पंजाब में लंबे समय से निजी और सरकारी बसों में अश्लील गाने चलाने की शिकायतें आती रही हैं। अकाली सरकार ने भी कई बार इसे रोकने को निर्देश जारी किए, पर कुछ नहीं हुआ। अब कांग्रेस सरकार ने इसका नया समाधान निकाला है। ब सार्वजनिक ट्रांसपोर्ट (निजी और सरकारी) में कोई भी रिकॉर्डेड गाने नहीं चलाए जा सकेंगे। सिर्फ इंस्ट्रुमेंटल म्यूजिक ही चलाया जा सकेगा। इसकेअलावा रेडियो की इजाजत रहेगी। बसों में फिल्में चलाने की इजाजत पहले की तरह जारी रहेगी। ट्रांसपोर्ट विभाग जल्द ही इसका नोटिफिकेशन जारी कर रहा है। उसके बाद चेकिंग के दौरान अगर किसी भी बस में गानों की सीडी मिली तो स्टाफ पर कार्रवाई की जाएगी।

Rate this post

Leave a Comment

Your email address will not be published.

*