Home Cricket खुलासा: एमएस धोनी नहीं ले रहे संन्यास, इसलिए उठाई थी मैच के...

खुलासा: एमएस धोनी नहीं ले रहे संन्यास, इसलिए उठाई थी मैच के बाद गेंद

428
0
Ms Dhoni

इंग्लैंड के खिलाफ तीसरे और आखिरी वनडे में हार के बाद भारत के सबसे सफल कप्तानों में शुमार महेंद्र सिंह धोनी के भविष्य को लेकर एक बार फिर अटकलें लगनी शुरू हो गई थी।
चारों तरफ उनके संन्यास पर चर्चा होने लगी थी।

अब पूरी घटना के लगभग 2 दिन बाद धोनी के संन्यास की खबरों की सच्चाई सामने आई है। खुद टीम इंडिया के कोच और पूर्व खिलाड़ी रवि शास्त्री ने सामने आकर धोनी के संन्यास की खबरों पर सफाई दी, साथ-साथ पूरी घटना को लेकर निराशा भी जताई है।

रवि शास्त्री ने बताया कि, ‘दरअसल, धोनी गेंद गेंदबाजी कोच भारत अरुण को दिखाने के लिए ले रहे थे। वह उन्हें गेंद की हालत दिखाना चाहते थे, जिससे उन्हें अंदाजा लग सके कि गेंद की हालत क्या है? और वहां उसके साथ किस तरह खेलना चाहिए था।

टाइम्स ऑफ इंडिया से बात करते हुए उन्होंने संन्यास के बारे में चर्चा करने वालों को लताड़ भी लगाई। उन्होंने कहा, ‘यह बकवास है। धोनी कहीं नहीं जा रहे हैं।’ बताते चले कि तीसरा वन-डे और सीरीज गंवाने के बाद जब टीम मैदान से बाहर आ रही थी तब 37 वर्षीय धोनी ने अंपायरों से गेंद मांगी।

धोनी आमतौर पर ऐसा नहीं करते क्योंकि मैच जीतने के बाद वह स्टंप एकत्र करते हैं। बीते दो दिन से 30 सेकंड की क्लिप सोशल मीडिया पर वायरल हो गई, जिससे दो बार के विश्व कप विजेता माही के संन्यास को लेकर अटकलें लगने लगी थी।

ऑस्ट्रेलिया के 2014 के दौरे पर बीच में ही अचानक टेस्ट क्रिकेट को अलविदा कहने वाले धोनी पिछले कुछ अर्से में मैच फिनिशर की भूमिका नहीं निभा पा रहे हैं। कप्तान विराट कोहली ने हालांकि उनका हर आलोचना से बचाव किया है।

धोनी के लिए संन्यास का मसला हमेशा संवेदनशील रहा है। उन्होंने एक बार एक ऑस्ट्रेलियाई पत्रकार के सवाल के जवाब में संकेत दिए थे कि कम से कम 2019 विश्व कप तक तो यह उनके दिमाग में नहीं है।

वनडे सीरीज में धोनी का प्रदर्शन औसत रहा। इसपर और अपनी धीमी बल्लेबाजी की वजह से धोनी इस वक्त अपने फैंस के निशाने पर भी हैं। उन्होंने 3 मैचों की सीरीज में दो मैचों में बल्लेबाजी करते हुए 79 रन बनाए। उनका अधितकम स्कोर 42 रन रहा। दूसरे वनडे के दौरान उन्होंने 59 गेंदों पर 37 रन बनाए थे।

10046 रन बनाए हैं धोनी ने 321 वनडे मैचों में दस शतकों व 67 अर्द्धशतकों मदद से।
1487 रन टी-20 के 93 मैचों में बनाए हैं, जिसमें दो अर्द्धशतकों शामिल हैं।
02 विश्व कप धोनी की कप्तानी में भारत ने 2011 में वनडे 2007 में टी-20 जीता है। साथ ही 2013 में आईसीसी चैंपियंस ट्रॉफी भी जीती है।
10,000 से अधिक रन बनाने वाले धोनी श्रीलंका के कुमार संगकारा के बाद दुनिया के दूसरे विकेटकीपर हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

*