राखी-से-8-दिन-पहले-सदा-के-लिए-सो-गया-इकलौता-भाई

राखी से 8 दिन पहले सदा के लिए सो गया इकलौता भाई

राखी से 8 दिन पहले सदा के लिए सो गया इकलौता भाई

राखी से 8 दिन पहले ही तीन बहनों का इकलौता भाई हमेशा के लिए उन्हें छोड़कर चला गया। इसकी वजह भी इतनी मामूली सी थी कि वे सारी जिंदगी रोती रहेंगी, जानिए मामला। वारदात अमेरिका में कैलिफोर्निया के सैक्रामेंटो अंजाम दी गई। मृतक सिमरनजीत सिंह (20) मोहाली के खरड़ का रहने वाला था। सैक्रामेंटो में गोली मारकर उसकी हत्या कर दी गई। वजह सिर्फ इतनी थी कि उसने कुछ लोगों को शराब पीने से रोका था। यह बात उन्हें गंवारा नहीं हुई और उन्होंने सिमरन पर हमला कर दिया। लोगों ने उसे 11 गोलियां मारी, जिनमें से सात उसकी छाती में लगी। घटना के बाद से सिमरन के घर में कोहराम मच गया है। उसकी तीनों बहनों का रो रोकर बुरा हाल है। सिमरन के पड़ोसी दलबीर सिंह ने जानकारी देते हुए बताया कि उसके पिता रणजीत सिंह भंगू सेक्टर-70 की कोठी नंबर-2607 में रहते हैं। वे पंजाब स्कूल शिक्षा बोर्ड से करीब सात साल पहले रिटायर हुए थे। इन दिनों वे छोटी बेटी को पास न्यूजीलैंड में हैं। बड़ी बेटी यूएसए में रहती है और एक बेटी यहां सन्नी एन्क्लेव में। दलबीर सिंह ने बताया कि सिमरन पिछले साल ही 12वीं की पढ़ाई पूरी कर यूएसए अपनी बड़ी बहन के पास गया था। वह वहां पर इंजीनियरिंग की पढ़ाई कर रहा था। सिमरन सैक्रामेंटो में ही एक शेबरॉम गैस स्टेशन पर पार्ट टाइम अटेंडेंट का काम करता था। 26 जुलाई की रात गैस स्टेशन स्थित दुकान पर सिमरनजीत मौजूद था। दुकान से कुछ व्यक्तियों ने सामान खरीदा और बाहर खड़े होकर शराब पीने लगे। स स्टेशन के एक कर्मचारी ने उन्हें शराब पीने से रोका तो वे उसके साथ बहस करने लगे। कुछ देर बहस होने के बाद सभी कर्मचारी स्टेशन के अंदर चले गए। जैसे ही सिमरन कुछ वेस्टेज सामान बाहर डस्टबिन में डालने आया तो पहले से ही बाहर बैठे शराबियों ने फायरिंग कर दी। उसके शरीर पर 11 गोलियों के निशान थे, जिनमें 7 निशान छाती पर ही मिले, बाकी शरीर के अन्य हिस्सों

Rate this post

Leave a Comment

Your email address will not be published.

*