Home Chandigarh Two Minor Students Were Missing In Chandigarh

Two Minor Students Were Missing In Chandigarh

288
0
Student Missing

वीरवार को गायब हुए रायपुरखुर्द निवासी पांचवी कक्षा के दो छात्र शुक्रवार तड़के 3 बजे रेलवे स्टेशन पर मिले। बताया जा रहा है कि एक शख्स उन्हें लेकर जा रहा था। रायपुरखुर्द में वीरवार को उस समय हड़कंप मच गया जब राजू और शिवा वापस घर नहीं लौटे। रोज की तरह घर बाहर खड़ी होकर बच्चों का इंतजार कर रही मां के पास जब बच्चे नहीं पहुंचे तो परिजन उन्हें तलाशना शुरू किया तो रायपुर खुर्द के जंगल में छात्रों के यूनिफार्म और स्कूल बैग मिले, लेकिन बच्चे नहीं। जिससे एरिया में हड़कंप मच गया। मामले की सूचना पर पहुंची पुलिस टीम ने आसपास के लोगों की मदद से पूरे जंगल की खोजबीन शुरू कर दी, लेकिन उन बच्चों का कोई सुराग नहीं लग सका।

गुरुवार शाम पुलिस कंट्रोल रूम को सूचना मिली कि रायपुरखुर्द के स्कूल में पढ़ने गए दो छात्र वापस घर नहीं लौटे, इस दौरान उनके यूनिफार्म जंगल में मिले लेकिन बच्चे नहीं मिले हैं। सूचना मिलते ही मौके पर डीएसपी और मौली जागरां थाना प्रभारी अपने टीम के साथ पहुंचकर सर्च अभियान चलाया। इसके अलावा शहर के गुरुद्वारा और रेलवे स्टेशन, बस स्टैंड और अन्य जगह पर बच्चों की फोटो देकर तलाश की गई।

मकान नंबर 52 निवासी शिवा के पिता सुरेंद्र कुमार ने बताया कि वह जीरकपुर में काम करते है। उनके एक बेटा और दो बेटी है। उनका 9 वर्षीय बेटा शिवा रायपुरखुर्द स्थित गवर्नमेंट मॉडल स्कूल का पाचवीं क्लास का छात्र है। सुबह करीब 8 बजे स्कूल गया लेकिन वापस नहीं लौटे। जिसके बाद खोजबीन की गई लेकिन उसका कुछ नहीं पता लग सका।

वहीं मकान नंबर-95सी निवासी राजू की मां लक्ष्मी ने बताया कि उनका बेटा सुबह तैयार होने के बाद स्कूल गया। दोपहर वह 2 बजे वापस घर वापस आ जाता था, लेकिन जब वहीं वापस नहीं आया तो उसकी तलाश शुरू की लेकिन उसका कोई सुराग नहीं लग सका। उन्होंने बताया कि कभी राजू को डांटा तक नहीं है, फिर भी पता नहीं वह 2 बजे स्कूल की छुट्टी होने के बाद वापस घर क्यों नहीं आया।

सीसीटीवी फुटेज में कैद

घटना के बाद आसपास के एरिया में लगे सीसीटीवी फुटेज खंगाला गया। इस दौरान स्कूल के सामने लगे एक फुटेज में दोनों छात्र कैद हो गए, जो कि स्कूल के छुट्टी के बाद दोनों वापस जाते दिख रहे है। इसमें उन दोनों का बैंग और युनिफार्म भी दिख रहा है। अब सवाल यह कि दोनों दोस्त स्कूल से निकलने के बाद कहां गए होंगे। जिस जगह बैग और उनकी यूनिफार्म मिले उससे घर की दूरी करीब 100 मीटर है। साथ ही दोनों ही बच्चे अपने परिवार के इकलौते बेटे है।

पिता ने बोला मिली थी धमकी

छात्रों के लापता होने के बाद आसपास के करीब 200 लोगों ने देर-रात तक जंगलों में टार्च लेकर बच्चों की तलाश करते रहे। साथ ही शिवा के पिता सुरेंद्र ने बताया कि उनकी जीरकपुर में दुकान है करीब 1 सप्ताह पहले बाइक पार्किंग को लेकर एक युवक से मारपीट हो गई थी। जिसके बाद युवक ने किसी जानकर को फोन कर मारने की धमकी दी थी हो सकता हो उसी ने यह काम किया हो।

छात्रों के परिजन से मिले पूर्व डिप्टी मेयर

घटना के बाद मौलीजागरां के पार्षद व पूर्व डिप्टी मेयर अनिल दूबे बच्चों के घर पहुंचे उन्होंने परिवार वालों को हर संभव सहायता देने का आश्वासन दिया है। इस दौरान उनके साथ भाजपा नेता अरविंद सिह, रामबाबू, ओपी यादव, शानू दूबे आदि मौजूद थे। अनिल दूबे को बच्चों की खोज के लिए लगा दिया गया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

*