Home Chandigarh विदआऊट हैलमेट लेडी के चालान कटेंगे 5 सितम्बर से

विदआऊट हैलमेट लेडी के चालान कटेंगे 5 सितम्बर से

444
0
Helmets for women

बिना हैलमेट टू व्हीलर चलाने वाली महिलाओं का ट्रैफिक पुलिस 7 दिन बाद यानी 5 सितम्बर से चालान काटना शुरू करेगी। यह फैसला चंडीगढ़ ट्रैफिक पुलिस ने बुधवार को लिया। पहले दिन ट्रैफिक पुलिस विदआऊट हैल्मेट महिलाओं पर खास नजर रखेगी। पुलिस आफिस आवर्स और सुबह-शाम को लाइट प्वाइंट्स और चौराहों पर तैनात रहेगी।

पुलिस ने कहा कि दोपहिया वाहन पर पीछे बैठी महिला को भी हैलमेट पहनना अनिवार्य है। महिला चालक को सिर्फ आई.एस.आई. मार्क हैलमेट पहनना होगा। नहीं तो ट्रैफिक पुलिस उसका भी चालान कर देगी। बिना हैलमेट का पहला चालान 300 रुपए और दूसरा चालान 600 रुपए का होगा। 12 साल से ऊपर के बच्चे का भी चालान होगा। हालांकि दस्तार पहनने वाली महिलाओं को हैलमेट पहनने की छूट है।

हैलमेट पहनो, बेटी बचाओ स्लोगन के साथ 30 कि.मी. रैली निकाली :

चंडीगढ़ ट्रैफिक पुलिस ने बुधवार को हैलमेट पहनो, बेटी बचाओ स्लोगन के साथ सैक्टर-11 स्थित पोस्ट ग्रेजुएट गर्ल्स कालेज की छात्राओं के साथ मिलकर हैलमेट को लेकर जागरूक करने के लिए 30 कि.मी. तक रैली निकाली। एस.एस.पी. निलांबरी विजय जगदले, एस.एस.पी. ट्रैफिक शशांक आनंद और कालेज के अन्य अधिकारी मौजूद रहे।

इस दौरान सड़क हादसों में घायल हुई मनप्रीत कौर, पूजा, सपना, लेडी कांस्टेबल निक्की और लेडी कांस्टेबल प्रदीप कौर भी थी जिन्होंने हैलमेट न पहनने से होने वाले सड़क हादसों के बारे में बताया। रैली कालेज से शुरू होकर अलग-अलग 28 सैक्टरों से होती हुई सैक्टर 42 के पोस्ट ग्रेजुएट गर्ल्स कालेज में जाकर समाप्त हुई। एस.एस.पी. निलांबरी विजय जगदले ने बताया कि रैली शुरू होने से पहले छात्राओं को 200 हैलमेट बांटे गए। एस.एस.पी. ट्रैफिक शशांक आनंद ने कहा कि हैलमैट सिर्फ आई.एस.आई. मार्का ही खरीदें।

प्रशासन ने जारी की थी नोटिफिकेशन :

बिना हैलमेट के हादसों में महिला की मौत होने बढ़ते मामलों को देखते हुए पंजाब एंड हरियाणा हाईकोर्ट ने चंडीगढ़ में महिलाओं के लिए हैलमेट अनिवार्य करने के आदेश दिए थे।

इसके बाद चंडीगढ़ प्रशासन ने 6 जुलाई, 2018 को महिलाओं के लिए दोपहिया वाहन चलाने के दौरान हैलमेट पहनने की नोटिफिकेशन जारी की थी। नोटिफिकेशन जारी करने के बाद चंडीगढ़ ट्रैफिक पुलिस ने चालान काटने से पहले शहर की महिलाओं और युवतियोंं को अवेयर करने के लिए अभियान चलाया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

*